खून चूसने वाली जोंक नमक डालने पर मर क्यों जाती है?

MastFacts-why-salt-kills-leeches-reason-in-hindi

दोस्तों, अगर आप किसी नाम और हरे भरे इलाके में रहते हैं, तो खून चूसने वाली लीच यानी जोंक के बारे में आप जानते होंगे जिसका वैज्ञानिक नाम “हिरुडो मेडिसिनेलिस” है। आपने देखा होगा की जब कोई जोंक शारीर से चिपक जाती है, तब उसपर नमक डाल कर त्वचा से हटा दिया जाता है। लेकिन दोस्तों, क्या आप इसके पीछे का कारण जानते हैं? नहीं? तो आइये इसका कारण जानने की कोशिश करते है।

MastFacts salt kills leeches reason in hindi

दरअसल, नमक पानी को सोंख लेता है और जोंक की त्वचा बहुत नाज़ुक होती है, उसमे से नमी की आवाजाही आसानी से हो सकती है। Osmotic Pressure की मदद से, नमक जोंक के शारीर का पूरा पानी सोंख लेता है। पानी के अभाव में उसके शारीर के सेल्स काम करना बंद कर देते है और वो छटपटाती हुई मर जाती है। इसी कारण जोंक चिपक जाने पर उसपर नमक डालने की हिदायत दी जाती है।

आइये, जोंक के बारे में थोड़ा और जानते हैं।

लीच यानी जोंक, एक प्रकार का कीड़ा है जो गीली जगहों पर पाया जाता है। सभी जोंक मांसाहारी होते हैं, यानी, वे मुख्य रूप से मांस खाते हैं, लेकिन कुछ haemophagic भी होते हैं; इसका मतलब है कि वे अन्य जानवरों का खून पीते हैं। हालाँकि, जोंक कभी-कभी चिकित्सा में सहायक होते हैं। उनका उपयोग अक्सर रक्त के थक्कों को कम करने के लिए किया जाता है। काफी समय पहले रोगियों के खून को चूसने के लिए इनका इस्तेमाल किया जाता था।

यह भी पढ़ें:
मकड़ी अपने ही जाले में क्यों नही फसती?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *